हिमाचल: आउटसोर्स कर्मियों को लेकर मंत्री ने दिया बड़ा बयान, यहां जानें

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: आउटसोर्स कर्मियों को लेकर मंत्री ने दिया बड़ा बयान, यहां जानें


शिमला।
हिमाचल प्रदेश की जयराम सरकार द्वारा हर साल पेश किए जाने वाले बजट का एक अच्छा ख़ासा हिस्सा कर्मचारियों पर खर्च कर दिया जाता है। ऐसे में सरकार के पास सूबे के विकास के पर्याप्त मात्रा में फंड नहीं बच पाता है। इसके बावजूद भी मौजूदा जयराम सरकार चुनावी साल में सभी कर्मचारी वर्गों को प्रसन्न करने के लिए हर तरह के प्रयास कर रही है। 

28 मार्च को बड़ी बैठक 

इस सब के बीच सूबे में कार्यरत आउटसोर्स कर्मचारियों द्वारा भी काफी समय से स्थायी नीति की मांग की जा रही है। वहीं, अब बताया जा रहा है कि जयराम सरकार आउटसोर्स कर्मचारियों के लिए जल्दी नीति लाने वाली है। 

गौरतलब है कि इसके लिए मंत्रिमंडल सब कमेटी का गठन किया गया है। इसका अध्यक्ष जलशक्ति मंत्री ठाकुर महेंद्र सिंह को बनाया है। कमेटी में शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज और ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी भी शामिल हैं। 28 मार्च को कमेटी की बैठक रखी गई है। 

दूसरी बैठक के बाद आ जाएगा फैसला 

इसके बाद अप्रैल के दूसरे सप्ताह में भी बैठक की जाएगी। जलशक्ति मंत्री ठाकुर महेंद्र सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार ने पहले पैरा, पीटीए को राहत दी है अब आउटसोर्स कर्मचारियों के लिए नीति बनाई जा रही है। जल्दी नीति बनाकर कर्मचारियों को राहत दी जाएगी। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आउटसोर्स कर्मचारियों को आश्वासन दिया है कि जल्दी ही उनके बारे में सरकार फैसला लेगी। उन्होंने कहा कि सरकार गंभीरता से इस पर कार्य कर रही है और जल्दी फैसला ले लिया जाएगा। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ