हिमाचल: नवंबर में हुआ था लापता, 5 माह बाद जंगल में लटका मिला; सड़-गल चुका था

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: नवंबर में हुआ था लापता, 5 माह बाद जंगल में लटका मिला; सड़-गल चुका था


कांगड़ा।
हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले स्थित ज्वालामुखी से एक बड़ा ही चकित करने वाला मामला रिपोर्ट किया गया है। यहां प्राचीन बाबा भैरव मंदिर के साथ लगते जंगल से बीते साल नवंबर माह में लापता हुए एक शख्स का शव बरामद किया गया है। बताया गया कि इस 44 वर्षीय व्यक्ति का शव पुराना होने के कारण बुरी तरह से सड़-गल चुका था। 

वहीं, शव बरामद होने की जानकारी पाने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को अपने कब्जे में लेने के बाद पोस्टमोर्टम के लिए भेज दिया है। शुरुआत में शव की पहचान करना काफी मुश्किल था, लेकिन जब पुलिस थाना में गुमशुदगी के मामलों को खंगाला गया तो पता चला कि खुडियां से एक व्यक्ति की गुमशुदा होने की रिपोर्ट खुडियां थाना में दर्ज करवाई गई थी।

पहचान करना था मुश्किल 

पुलिस द्वारा इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया गया कि बीते साल नवंबर माह में एक व्यक्ति की गुमशुदगी की रिपोर्ट खुंडिया थाने में उसके परिजनों द्वारा दर्ज करवाई गई थी। ऐसे में पुलिस द्वारा यहां मृतक व्यक्ति के भाई को भी मौके पर बुला लिया गया था, ताकि शव की पहचान हो सके। 

2 बेटियां एक बेटा व अपनी पत्नी को छोड़ गया 

पुलिस के मुताबिक़ मृतक व्यक्ति के भाई द्वारा इस गले सड़े शव की पहचान की गई है कि उक्त शव उसके भाई का ही है। मृतक की पहचान पवन कुमार 44 निवासी गांव सुराणी, तहसील खुडियां के रूप में की गई है। मृतक अपने पीछे 2 बेटियां एक बेटा व अपनी पत्नी को छोड़ गया है।  

थाना प्रभारी खुंडिया प्यार सिंह ने मामले की पुष्टि की है। पुलिस ने मौके पर कार्रवाई करते हुए यहां साक्ष्य जुटाने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि पुलिस मामले की कार्रवाई कर रही है, साथ ही मृतक के परिजनों के भी बयान दर्ज कर रही है। आगामी कार्रवाई पुलिस द्वारा नियमानुसार अमल में लाई जाएगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ