हिमाचल: प्रेमी के साथ मिलकर खा गई अपना सुहाग, 14 साल के बच्चे ने खोला राज

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: प्रेमी के साथ मिलकर खा गई अपना सुहाग, 14 साल के बच्चे ने खोला राज


ऊना।
हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले से दो दिन पहले रिपोर्ट किए गए ब्लाइंड मर्डर के मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है। जिले की हरोली पुलिस ने इस मामले की तह में जाकर असली हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि, यह वारदात आज से 5 माह पूर्व हुई थी। 

प्रेमी ने दोस्त के साथ मिलकर रेता था गला 

वहीं, 14 मार्च 2022 को पुलिस ने मामले में हत्या का केस दर्ज कर अगले ही दिन यानी 15 मार्च को उत्तर प्रदेश से हत्या के आरोपियों को अरेस्ट कर लिया। पुलिस ने बताया कि मृतक चंद्रभान की पत्नी ममता ने प्रेमी मुकेश के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतरवाया था। 

वहीं, महिला के प्रेमी मुकेश का साथ उसके दोस्त गौरव ने भी दिया था। पुलिस तीनों हत्यारों को गिरफ्तार कर हिमाचल ले आई है। मृतक का शव 11 अक्टूबर 2021 को हरोली उपमंडल के तहत पड़ते ठाकरां गांव में लावारिस हालत में मिला था। मृतक मूलतः उत्तर प्रदेश के रामपुर जिला के तहत पड़ते जगसेर गांव का रहने वाला था। 

शुरू में लगा था जानवर ने खाया 

शव की बरामदगी होने के कुछ दिनों बाद उसकी पत्नी और रिश्तेदारों ने शिनाख्त भी की थी। शुरुआत में यह मामला जंगली जानवर के हमले से मौत का माना जा रहा था। उस वक्त की गई पूछताछ में पत्नी ने भी पति की किसी के साथ रंजिश होने की बात से इंकार किया था।

5 माह बाद सामने आई पोस्टमोर्टम रिपोर्ट 

इसके बाद मृतक के शव का पोस्टमोर्टम टांडा अस्पताल में करवाया गया था, जिसकी रिपोर्ट 14 मार्च 2022 को मिली। इस रिपोर्ट में यह बात सामने आई कि चंद्रभान की मौत किसी जंगली जानवर के हमले में नहीं, बल्कि तेजधार हथियार से गला रेत कर उसकी ह्त्या की गई थी। 

ऐसे में पुलिस ने तुरंत ही धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज कर नए सिरे से मामले की जांच शुरू कर दी। इंडस्ट्रियल एरिया टाहलीवाल में रहने वाले चंद्रभान की हत्या की तफ्तीश भी किराए के घर के आसपास से ही शुरू की गई। पुलिस को आरंभिक जांच में यह पता चला कि पति-पत्नी के बीच अक्सर मारपीट होती थी और चंद्रभान को उसकी पत्नी कुछ अन्य साथियों के साथ मिलकर घर में बंद भी कर दिया करती थी।     

बेटे ने किए हैरान करने वाला खुलासे 

इस जानकारी से पुलिस का शक चंद्रभान की पत्नी ममता पर गहरा गया। लिहाजा पुलिस ने फौरन उत्तर प्रदेश पहुंचकर चंद्रभान के परिवार से भी पूछताछ करने का फैसला लिया। एसएचओ हरोली सनी गुलेरिया की अगुवाई में पुलिस टीम ने रातों रात उत्तर प्रदेश के रामपुर स्थित जगसेर गांव पहुंच गई।  मृतक चंद्रभान उर्फ चन्नी के 14 साल के बेटे से घटना की जानकारी हासिल करनी चाही तो उसने कई सनसनीखेज खुलासे कर डाले। 

उसने बताया कि मां ममता के अपने ही फुफेरे भाई मुकेश के साथ अवैध संबंध थे। इसी कारण दोनों के बीच अक्सर विवाद होता रहता था। बच्चे के बयान दर्ज करने के बाद पुलिस ने मृतक की पत्नी ममता की बजाय सीधे उसके फुफेरे भाई और प्रेमी मुकेश को धर दबोचा।

शुरआती पूछताछ में ही टूट गया मुकेश 

प्रारंभिक पूछताछ में ही मुकेश टूट गया और उसने अपने साथी गौरव के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम देने की बात कबूल की।  मुकेश ने पुलिस को बताया कि 9 अक्टूबर 2021 को उसने और उसके साथी गौरव ने मृतक चंद्रभान को संतोषगढ़ में शराब पीते हुए ही काबू कर लिया, जिसके बाद दोनों उसे हरोली उपमंडल के गांव ठाकरां ले गए, वहीं पर दोनों ने उसकी गला रेत कर हत्या कर डाली।

घटना के बाद शव को वहीं पर फेंक कर दोनों फरार हो गए। इसके बाद पुलिस ने मृतका चंद्रभान की 34 वर्षीय पत्नी ममता, उसके 42 वर्षीय प्रेमी मुकेश पुत्र राजेंद्र निवासी मोहल्ला साजीपुर जिला संभल उत्तर प्रदेश और 24 वर्षीय गौरव पुत्र अशोक निवासी खरगोली खुर्द डाकघर जखेली जिला बदायूं उत्तर प्रदेश को फौरन गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अधीक्षक अर्जित सिंह ठाकुर ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि पुलिस ने घटना के संबंध में जांच आगे बढ़ा दी है हत्या के तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ