हिमाचल शर्मसार: नवविवाहित दंपति ने जन्म लेते ही कूहल में दफना दी नन्ही जान, ऐसे पकड़े गए

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल शर्मसार: नवविवाहित दंपति ने जन्म लेते ही कूहल में दफना दी नन्ही जान, ऐसे पकड़े गए


कांगड़ा।
हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले से एक बेहद ही शर्मसार कर देने वाला मामला रिपोर्ट किया गया। बतौर रिपोर्ट्स, यहां स्थित नगरोटा बगवां क्षेत्र के तहत कस्बा पठियार में कूहल में एक नवजात बच्ची का दबा हुआ शव बरामद किया गया है। 

बताया गया कि इस वारदात को पाठियार कस्बे के एक नवविवाहित दंपति ने अंजाम दिया है। मिली जानकारी के अनुसार उक्त दंपति ने नवजात बच्ची को कूहल में दफ़न कर इस मामले को दबाने का भरसक प्रयास किया लेकिन वे सफल नहीं हुए। वहीं, अब मामले का पता चलने के बाद पुलिस ने उक्त दंपति के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। 

रक्तस्राव ने खोल दिया राज 

बतौर रिपोर्ट्स, इस क्रूर वारदात को अंजाम देने के बाद रक्तस्राव को रोकने के लिए महिला ने अपने पति को पहले दवाई लाने को कहा। जब पेटदर्द ठीक नहीं हुई तो महिला ने पति को पेट दबाने को कहा। बताया जा रहा है कि जब यह सब करने के बाद भी बात नहीं बनी तो उसे इलाज के लिए नगरोटा बगवां सरकारी अस्पताल लाया गया। 

जहां से अस्पताल के चिकित्सकों ने उसे मेडिकल कॉलेज टांडा में ले जाने को कहा। वहीं, मेडिकल कॉलेज टांडा के चिकित्सकों ने महिला को बताया की आपके पेट में 9 माह का बच्चा था। इसपर पहले तो दंपति ने कोई बच्चा पैदा न होने का बहाना बनाया। 

अस्पताल की तरफ से पुलिस को बताया गया फिर ..

ऐसे में शक होने पर चिकित्सकों ने यह मामला पुलिस को सौंप दिया। इसके बाद महिला के पति ने नगरोटा बगवां पुलिस के प्रभारी अशोक राणा द्वारा की गई गहन पूछताछ के दौरान बताया कि उक्त जन्मी बच्ची को गांव के पास कूहल में दबाया गया है। 

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा

नगरोटा बगवां पुलिस ने बुधवार को नगरोटा बगवां के तहसीलदार कुलताज सिंह की अगुवाई में नवजात बच्ची का शव कूहल से बरामद कर उसे पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया है। उन्होंने बताया कि उक्त बच्ची के पोस्टमार्टम एवं डीएनए की रिपोर्ट के बाद ही सारा मामला सामने आएगा। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ