शांता-धूमल-जयराम सब बोले- हिमाचल में फिर एक बार बनेगी BJP की सरकार

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

शांता-धूमल-जयराम सब बोले- हिमाचल में फिर एक बार बनेगी BJP की सरकार


शिमला।
भारतीय जनता पार्टी ने देश के चार राज्यों में बहुमत से सरकार बनाई है। इस एतिहासिक जीत पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि जीत से यह साफ हो गया है कि हिमाचल में भी एक बार फिर भाजपा की सरकार बनेगी। 

वहीं, पार्टी प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप ने कहा कि सभी राज्यों में कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो गया है। इस बार चुनाव में कांग्रेस को खाता खोलना भी मुश्किल हो गया। उन्होंने कहा कि भाजपा को जिस प्रकार से सभी राज्यों में वोट प्रतिशत और जनमत मिला है, इससे पता चलता है कि जनता को मोदी सरकार में पूरा विश्वास है। उन्होंने दावा किया कि हिमाचल में भी एक बार फिर भाजपा सरकार बनाने जा रहे हैं।  

समझदार हो गया है देश का मतदाता: शांता

इसी तरह पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने विधानसभा चुनाव के आए नतीजों पर मतदाताओं को बधाई दी है। उन्होंने कहा है कि मतदाताओं ने न जात देखी न साख, देखा केवल काम। उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर भारत का मतदाता समझदार हो गया है और अब केवल जनहित और ईमानदारी से काम करने वाले लोगों को ही सेवा करने का मौका दिया है। दिल्ली में दो बार काम के बलबूते पर ही आम आदमी पार्टी ने सरकार बनाई है। 

उसके काम को दूर पंजाब के मतदाताओं ने भी सराहा और मतदान के दौरान एक आंधी का स्वरूप दिया। पंजाब में आंधी इतनी आई कि मुख्यमंत्री, पूर्व मुख्यमंत्री और कई प्रमुख चेहरे भी इस आंधी में उड़ गए। चार राज्यों में भाजपा की जीत से साफ है कि मतदाता अब काम करने वालों को तवज्जो देने लगा है। 

भाजपा को मिला काम का इनाम: धूमल

पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि कोरोना महामारी और विपक्ष के दुष्प्रचार से लड़ाई के बावजूद दोबारा चार राज्यों में कमल का फूल खिलना भाजपा की बड़ी राजनैतिक विजय है। 

चुनाव के दौरान कई तरह के प्रलोभन मतदाताओं को दिए गए और भाजपा की राज्य सरकारों और केंद्रीय नेतृत्व के विरुद्ध दुष्प्रचार किया गया, लेकिन इस सब के बावजूद मतदाताओं ने बिना किसी लालच में आए भाजपा का साथ दिया। विरोधी और आलोचक यह उम्मीद लगा कर बैठे थे कि इन सभी राज्यों में पार्टी की हार होगी, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में प्रदेश सरकारों ने शानदार काम किया था। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ