द कश्मीर फाइल्स: केजरीवाल के जिस बयान पर हो रही थू-थू: उसी के समर्थन में उतरे विक्रमादित्य सिंह

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

द कश्मीर फाइल्स: केजरीवाल के जिस बयान पर हो रही थू-थू: उसी के समर्थन में उतरे विक्रमादित्य सिंह


शिमला।
देश भर में इन दिनों 'द कश्मीर फाइल्स' नामक फिल्म को लेकर चर्चाओं का माहौल गर्म बना हुआ है। जम्मू-कश्मीर में इस्लामिक अतिवाद का शिकार बने कश्मीर पंडितों पर हुए अन्याय को पर्दर्शित करती इस फिल्म को हर कोई देखना चाह रहा है। वहीं, इस फिल्म को राजनीति के अखाड़े में भी उतार दिया गया है। 

एक तरफ जहां बीजेपी शासित राज्यों में इस फिल्म को टैक्स फ्री किया जा रहा है। वहीं, कांग्रेस समेत अन्य दलों के नेता सच को झूठ बताकर अपनी राजनीतिक रोटियां सेंकने में लगे हुए हैं। वहीं, इन दिनों इस फिल्म को लेकर केजरीवाल द्वारा दिया गया एक बयान भी चर्चा में बना हुआ है, जिसे लेकर देश भर में उनकी थू-थू हो रही है। 

वहीं, अब खबर है कि बात-बात पार अपनी पार्टी का विरोध करने से भी ना कतराने वाले हिमाचल कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह ने भी केजरीवाल के इस बयान का समर्थन कर दिया है। केजरीवाल की बात के समर्थन के सवाल पर उन्होंने कहा कि जो भी व्यक्ति सही बात करेगा, उसका हम समर्थन करेंगे। 

यहां पढ़ें केजरीवाल का बयान 

केजरीवाल ने हाल ही में फिल्म को टैक्स-फ्री करने को लेकर विपक्ष पर हमला बोला और कहा कि अगर सबको मूवी दिखानी है तो डायरेक्टर को बोलो कि वो इसे यूट्यूब पर डाल दे, सब फ्री में देख लेंगे। उन्होंने ये भी कहा कि कश्मीरी पंडितों के नाम पर करोड़ों कमाया जा रहा है। वहीं, जब केजरिवाल यह बयान दे रहे थे तो उस वक्त उनके पीछे बैठे विधायक साथी इस बात पर जोरो जोर से ठहाके लगाकर हंस रहे थे। इसके बाद से ही इस बयान और पूरे मसले को लेकर राजनीति गरमाई हुई है। 

यहां जाने क्या बोले विक्रमादित्य सिंह 

कांग्रेस नेता ने कहा कि फिल्म के बहाने के राजनीति करने की कोशिश की जा रही है। ये फिल्म व्यवसायिक हित्तों की पूर्ति के लिए बनाई गई है। उन्होंने कहा कि ध्रुवीकरण के लिए प्रोपेगेंडा चलाया जा रहा है और चुनाव आने पर इस तरह की कोशिश की जाती है। बकौल विक्रमादित्य, अगर भाजपा को इतना ही शौक है कि हर जगह टैक्स फ्री होनी चाहिए तो यू-ट्यूब पर डाली जाए, ताकि सभी लोग देख सकें।

कांग्रेस विधायक ने आगे कहा कि किसी भी मुद्दे का राजनीतिकरण किस तरह से किया जाता है, ये उसी का एक नमूना है, जब भी चुनाव आते हैं तो भाजपा इस तरह के मुद्दे को उठाती है। पुलवामा और उरी की घटना पर भी इसी तरह का प्रोपेगेंडा चलाया गया। उन्होंने कहा कि अभी फिल्म नहीं देखी है लेकिन जब सरकार इस तरह से समर्थन में खड़ी होती है और इस फिल्म के जो रिव्यू आए हैं वो यही बता रहें हैं कि भाजपा इस पर राजनीति कर रही है।

विक्रमादित्य सिंह का ये भी कहना है कि कश्मीरी पंडितो के साथ पूरी सहानुभूति है, उनके साथ हुई घटनाओं को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ