कल विधायकों को गाली देकर कहा था- पीछे कुत्ते दौड़ा देंगे, आज रुमित समेत तीन लोग हुए अरेस्ट

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

कल विधायकों को गाली देकर कहा था- पीछे कुत्ते दौड़ा देंगे, आज रुमित समेत तीन लोग हुए अरेस्ट


शिमला।
हिमाचल में सवर्ण आयोग के गठन की मांग को लेकर बीते कल प्रदेश भर में माहौल तनावपूर्ण बना रहा। सूबे की राजधानी शिमला समेत अन्य कई जगहों आयोग के गठन की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प भी हुई। 

वहीं, लोगों के जत्थे का नेतृत्व करते हुए शिमला पहुंचे देवभूमि क्षत्रिय संगठन के अध्‍यक्ष रुमित सिंह ठाकुर ने अपनी पार्टी बनाने का ऐलान करते हुए चुनाव लड़ने की बात कही, जिसके बाद इनके ही संगठन के लोग दो फाड़ में बंट गए। अब खबर आ रही है कि पुलिस ने देर रात रुमित सिंह ठाकुर व उनके दो साथियों को गिरफ्तार किया है। इन तीनों को शोघी से गिरफ्तार किया गया है। शिमला पुलिस ने गिरफ्तारी की पुष्टि की है।

बताया गया कि राजधानी शिमला में देवभूमि क्षत्रिय संगठन व देवभूमि सवर्ण मोर्चा पर उपद्रव मचाने पब्लिक प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाने को लेकर पुलिस ने यह कार्रवाई की है। वहीं, व्यक्तिगत तौर पर अगर हम रुमित ठाकुर की बात करें तो उन्होंने अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा उजागर करने के अलावा सूबे के सभी दलों के विधायकों को कैमरे के सामने गाली देते हुए काफी कुछ कह डाला था। 

बीते कल पत्रकारों से बातचीत के दौरान रुमित के कुछ ऐसे थे बोल-

68 विधायकों जाओ तुम अपनी विधानसभा में, कुत्ते ना दौडाए ना तुम्हारे पीछे हमने। तुमने FIR करवानी है तो करवा देना, अन्दर करवाना होगा करवा देना, एक परसेंट भी परवाह नहीं है हमें। जो तुमने करना है करो, जो तुमने उखाड़ना है उखाड़ो हम बताएँगे तुम्हें उखाड़ के और तुम्हारी जड़ें इस विधानसभा से उखाड़ कर फेंकेंगे। 

रुमित ने आगे कहा था कि ये साले नालायक, ये कायर- ये पुलिस वालों से हमारे लड़कों को घरों से उठवाते हैं। ये है तुम्हारी कायरता। दो चार महीने के लिए मुझे अन्दर करवा दोगे। इसके अलावा क्या करोगे। इससे ज्यादा तो कुछ नहीं कर पाओगे ना। 

वहीं, अब रुमित द्वारा गिरफ्तार करने को लेकर कही बात सही सभी साबित हो गई है, लेकिन ये देखना सबसे अहम् होगा कि ये कार्रवाई कितनी लंबी चलती है और इसका निष्कर्ष क्या निकलता है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ