आप की रैली: केजरीवाल पंडाल में- कार्यकर्ता बुरे हाल में, शमशान में बैठे दिखे झाडू वाले

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

आप की रैली: केजरीवाल पंडाल में- कार्यकर्ता बुरे हाल में, शमशान में बैठे दिखे झाडू वाले


कांगड़ा।
हिमाचल प्रदेश के गरमाए हुए चुनावी माहौल में आज कांगड़ा जिले स्थित चंबी मैदान में आम आदमी पार्टी की रैली हुई। पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के सीएम 20 दिनों के भीतर दूसरी बार हिमाचल आए। तीसरा मोर्चा बनकर हिमाचल की राजनीति में नया करिश्मा करने की तैयारी में केजरीवाल चंबी मैदान में दहाड़े भी बहुत और जनता से उन्हें एक मौक़ा देने की सिफारिश की। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: राशन डिपो पर आया ऐसा घटिया आटा कि जनता बोली- लेना ही नहीं..

केजरीवाल की इस रैली में ठीक-ठाक संख्या में भीड़ भी जुटी और एक तरफ से कहा जाए तो उनका यह क्रायक्रम औसत तौर पर सफल भी रहा, लेकिन अब उनकी रैली से जुडी कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। इन तस्वीरों में साफ़ नजर आ रहा है कि चंबी मैदान में केजरीवाल और उनके पार्टी पदाधिकारियों के बैठने के लिए अच्छा ख़ासा सुसज्जित पंडाल लगाया गया है। 

प्लास्टिक की तपती कुर्सियों ने जला दी तशरीफ़ 

वहीं, उसके सामने रैली में आने पार्टी के कार्यकर्ताओं और जनता के लिए सजा दी गई हैं प्लास्टिक की कुर्सियां। अब भले ही हिमाचल ठंडा राज्य है लेकिन कांगड़ा और ऊना जैसे जिलों में इन दिनों अच्छी खासी गरमी पड़ रही है। ऐसे में प्लास्टिक की इन कुर्सियों पर तशरीफ़ टिकाने में झाड़ू वालों को जो परेशानी हुई है, खुद ही बता सकते हैं। 

कुछ को शमशान में तो कुछ को पेड़ों तले बैठना पड़ा 

इसके अलावा रैली से जुडी कुछ अन्य तस्वीरों में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्त्ता तपती धूप से खुद को बचाने के लिए शमशान घाट और अन्य जगहों पर बैठे नजर आ रहे हैं। वहीं, ये तस्वीरें अब सोशल मीडिया पर वायरल भी होने लग पड़ी हैं। इन तस्वीरों को सोशल मीडिया पर पोस्ट कर लोग आम आदमी पार्टी और उनके इवेंट मेनेजमेंट पर करारे तंज भी कसने लग पड़े हैं। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: ड्राइंग टीचर और पीईटी के 1690 पदों पर भर्ती को लेकर निर्देश जारी, जानें

अंकुश कपूर नाम एक फेसबुक यूजर इन तस्वीरों को पोस्ट कर लिखते हैं कि शर्म कर लो आपियो, कुछ श्मशान घाट पर बिठा दिए, कुछ पेड़ तले सिमटा दिए...

लोगों के सिर पर टेंट नहीं, जनता ने ली तीर्थ स्थलों की शरण। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ