हिमाचल से दूर रखे जा रहे अनुराग: नड्डा के रोड शो में नहीं आएंगे, समझें इसके मायने

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल से दूर रखे जा रहे अनुराग: नड्डा के रोड शो में नहीं आएंगे, समझें इसके मायने


शिमला।
हिमाचल प्रदेश में इस साल के अंत में होने वाले चुनावों को लेकर सूबे का राजनीतिक पारा काफी ज्यादा चढ़ा हुआ है। सूबे की सत्तासीन पार्टी बीजेपी अपने पूरे दमखम के साथ सूबे का राजनीतिक इतिहास बदलने की चाहत लिए मिशन रिपीट करने के लिए मिशन मोड में काम का रही है। राजधानी शिमला से लेकर दिल्ली तक रणनीतिक तैयारियां की जा रही हैं। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: तेज रफ़्तार ट्रक और बाइक के बीच हुई जोरदार भिडंत, 2 युवक स्वर्ग सिधारे

इस सब के बीच हिमाचल से ही ताल्लुक रखने वाले भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा पखवाड़े भर के भीतर दूसरी बार हिमाचल के दौर पर कांगड़ा जिले में आ रहे हैं। राजनीतिक दृष्टिकोण से काफी ज्यादा अहम् माने जाने वाले कांगड़ा जिले में जेपी नड्डा के भव्य स्वागत की तैयारियां चल रही हैं। उनके शिमला दौरे की तरह ही कांगड़ा में भी रोड शो का आयोजन किया जाएगा। 

नड्डा के कांगड़ा रोड शो में नहीं रहेंगे अनुराग 

इस रोड शो में नड्डा के अलावा हिमाचल बीजेपी के सभी प्रमुख चेहरे शामिल होंगे सिवाय एक को छोड़कर। वो चेहरा हो हिमाचल के हमीरपुर जिले से बीजेपी सांसद और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर का। खबर मिली है कि नड्डा के रोड शो के दिन अनुराग हिमाचल के बजाय गुजरात में मौजूद रहेंगे। अनुराग द्वारा खुद ही इस कार्यक्रम में शामिल ना होने की जानकारी दी गई है। 

गुजरात में लगाई गई है अनुराग की ड्यूटी 

विदित है कि इस साल के अंत में हिमाचल और गुजरात में एक साथ विधानसभा चुनावों का आयोजन किया जाना है। वहीं, हिमाचल प्रदेश की राजनीति का अहम चेहरा माने जाने वाले अनुराग ठाकुर की ड्यूटी केंद्रीय आलाकमान द्वारा गुजरात में लगा दी गई है। अनुराग उस दौरान गुजरात के गांधीनगर में आयोजित वैश्विक आयुष निवेश और नवाचार शिखर सम्मेलन में मुख्या वक्ता की भूमिका में मौजूद रहेंगे। 

यहां समझें क्या सन्देश देना चाहता है आलाकमान 

वहीं, केंद्रीय आलाकमान द्वारा नड्डा के कार्यक्रम से अनुराग को दूर रखने का निर्णय लोगों की नजरों में खटकने लगा पड़ा है। गौरतलब है कि नड्डा ने 9 अप्रैल को अपने शिमला दौरे के दौरान यह बात साफ़ कर दी थी कि जयराम ठाकुर ही आगामी चुनावों में बीजेपी का सीएम फेस होंगे। वहीं, इसके पहले खबरों का बाजार इस बात से गर्म था कि अनुराग ठाकुर को हिमाचल में सीएम फेस बनाया जा सकता है। 

यह भी पढ़ें: जयराम कैबिनेट: अगली बैठक की डेट हुई फाइनल, लिए जाएंगे ये फैसले; जानें

ऐसे में अब केंद्र द्वारा अनुराग को हिमाचल में हो रहे महत्वपूर्ण कार्यक्रम से दूर किया जाना इस बात का स्पष्ट संकेत देते है कि केंद्रीय आलाकमान जयराम ठाकुर को अच्छे से पांव पसारने का मौक़ा देना चाहता है, जिससे लोगों के मन में अपने नेता के स्थायित्व को लेकर किसी भी प्रकार का संशय ना रहे। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ