HRTC बस बनी महिला के लिए फरिश्ता: लॉन्ग रूट छोड़ पहले अस्पताल पहुंचाया

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

HRTC बस बनी महिला के लिए फरिश्ता: लॉन्ग रूट छोड़ पहले अस्पताल पहुंचाया


कुल्लूः
हिमाचल प्रदेश परिवहन निगम की बस यात्रियों को समय पर उनके गंतव्य तक पहुचाने के लिए जानी जाती है। परंतु आज निगम की बस एक महिला यात्री के लिए फरिश्ता बनी है। मामला प्रदेश के कुल्लू जिले के तहत आते अटल टनल के समीप का है। बता दें कि HRTC की लॉन्ग रुट बस में सवार एक महिला यात्री अचानक से बेहोश हो गई। इस पर मौके की गंभीरता को भांपते हुए चालक व परिचालक ने बस को तुरंत अस्पताल पहुंचाकर एक महिला को उपचार दिलाकर नया जीवनदान दिया है।

दिल्ली जा रही थी बस

हालांकि, इस दौरान बस अपने रुट के लिए देर हो गई। परंतु पहली बार इस देरी के लिए लोगों द्वारा कोई सवाल नहीं उठाए गए। मिली जानकारी के मुताबिक आज सुबह करीब आठ बजे निगम की बस नंबर HP66A-2523 लाहुल स्पीति जिले स्थित उदयपुर से दिल्ली के लिए रवाना हुई थी। इस बीच रास्ते में बस जैसे ही गोंदला पहुंची तो वहां से एक युगल बस में सवार हुआ। रास्ते में जब बस अटल टनल के समीप पहुंची तो अचानक से महिला यात्री की तबीयत बिगड़ गई और वह बस में ही बेहोश हो गई। 

मनाली अस्पताल पहुंचाया

इस पर चालक तथा परिचालक ने बिना वक्त गंवाए इसकी जानकारी क्षेत्रीय प्रबंधक को देते हुए कहा कि महिला को मनाली अस्पताल पहुंचाना बहुत आवश्यक है। आदेश मिलते ही चालक ने पहले तो अस्पताल प्रबंधन को मामले के बारे में सूचित किया। इसके उपरांत बस को लेकर मनाली अस्पताल पहुंचे जहां उन्होंने महिला को उपचार हेतु भर्ती करवाया। 

क्षेत्रीय प्रबंधक ने की प्रशंसा

वहीं, अब महिला की स्थिति स्थिर बताई जा रही है। उधर, क्षेत्रीय प्रबंधक परिवहन अधिकारी मंगल मनेपा ने  चालक राजकुमार तथा परिचालक दिलीप सिंह की मानवीयता की पीठ थपथपाई है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ