हिमाचल में गरजे केजरीवाल और मान: कहा- हमें एक मौक़ा दो, आपको फर्क दिखेगा..

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल में गरजे केजरीवाल और मान: कहा- हमें एक मौक़ा दो, आपको फर्क दिखेगा..


मंडीः
हिमाचल प्रदेश में आम आदमी पार्टी के संस्थापक व दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल तथा पंजाब के सीएम भगवंत मान रोड शो करने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के गृह क्षेत्र मंडी पहुंचे हुए हैं। 

देशभक्ति गीतों के बीच आम आदमी पार्टी का ये रोड़ शो विक्टोरिया पुल से शुरु होकर पड्डल मैदान तक हुआ। इस उपलक्ष पर भारी मात्रा में 'आप' के कार्यकर्ता जुटे। इस दौरान सीएम केजरीवाल तथा मुख्यमंत्री भगवंत मान ने जनता का संबोधन किया। सीएम केजरीवाल ने मात्र 7 मिनट में ही अपना संबोधन समाप्त कर लिया। 

हम भी आपकी तरह मामूली लोग हैं- केजरीवाल 

अपने संबोधन के दौरान सीएम केजरीवाल ने कहा कि इस बार चाबी हिमाचल की जनता के हाथ में है। उन्होंने कहा कि पहले पैसा नीचे से ऊपर तक जाता था। परंतु अब दिल्ली व पंजाब में ऐसा नहीं होता। वहीं, अब हिमाचल की बारी है। उनका कहना है कि मुझे राजनीति नहीं करनी आती, स्कूल तथा अस्पताल बनाने आते हैं।

यह भी पढ़ें: हिमाचलः दाल-चीनी-नमक के साथ नशा भी बेचता था परचून वाला, ऐसे पकड़ा गया

हम भी आपकी तरह मामूली लोग हैं। 20 दिन के अंदर पंजाब में भ्रष्टाचार खत्म किया। यार दोस्त पंजाब के रहने वाले हैं तो उनसे पूछना। पंजाब में अब कोई एक पैसा नहीं मांग सकता। हमें एक मौका दे दो। आपने दूसरे दलों को भी देख लिया एक बार हमें भी देख लो, आपको अपने आप फर्क दिख जाएगा।

यहां आम आदमी भी विधायक बन सकता है: मान 

वहीं, इस दौरान पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि चन्‍नी को हराने वाला मोबाइल रिपेयर करता है। सिद्धू को हराने वाला सामाजिक कार्यकर्ता है। कोई भी आम आदमी विधायक बन सकता है। यहां 60 साल के भी यूथ के नेता बन कर बैठे हैं।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में अगले तीन दिन कुछ ऐसा रहेगा मौसम का हाल: जारी हुआ येलो अलर्ट- जानें

मान ने आगे कहा कि अब भगवान ने अपना झाड़ू भेजा है राजनीति की सफाई करने के लिए। इस बार अपने आप को वोट दें, अच्छी शिक्षा, अच्छी सेहत और बिजली-पानी जैसी बुनियादी सुविधाओं के लिए वोट दें। पंजाब का रिजल्ट आने के बाद हर तीसरे दिन हिमाचल के भाजपा और कांग्रेस के नेताओं का बयान आ जाता है कि यहां तीसरी पार्टी नहीं आ सकती। लेकिन आदमी वही बोलता है जिसका डर रहता है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ