हिमाचल में मल्टीटास्क वर्कर भर्ती: शिक्षा विभाग ने जारी किए नियम, जानें कैसी होगी चयन प्रक्रिया

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल में मल्टीटास्क वर्कर भर्ती: शिक्षा विभाग ने जारी किए नियम, जानें कैसी होगी चयन प्रक्रिया


शिमलाः
हिमाचल प्रदेश में पार्ट टाइम मल्टी टास्क वर्कर्स के 8 हजार पदों पर भर्तियां शुरु हो गई हैं। इस संबंध में शिक्षा विभाग की ओर से भर्ती संबंधित नियम जारी कर दिए गए हैं। नियमों के तहत एसडीएम की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीत कमेटी इन वर्करों का चयन करेगी। इससे स्थानीय लोगों को प्राथमिकता मिलेगी। 

यह भी पढ़ें: 'आप' के नहीं रहे केसरी तो सिसोदिया ने चरित्र पर उछाले छींटे, कहा- महिलाओं संग गंदी हरकत की

इस संबंध में प्रधान सचिव शिक्षा रजनीश कुमार की ओर से अधिसूचना जारी की गई है। उन्होंने बताया कि उम्मीदवारों का चयन 38 अंकों के आधार पर होगा। मेरिट बेसिस पर अभ्यर्थियों का चयन किया जाएगा।

ऐसे करें आवेदन

इस भर्ती के लिए इच्छुक अभ्यर्थी सादे कागज पर प्रार्थना पत्र तथा आवश्यक प्रमाण पत्रों संग खंड शिक्षा अधिकारी या जिला उपनिदेशक के पास आवेदन कर सकते हैं। चयनित उम्मीदवारों के अलावा हर स्कूल में मेरिट आधार पर दो अभ्यर्थियों की वेटिंग लिस्ट बनाई जाएगी।

इतना मिलेगा मासिक वेतन

  • चयनित उम्मीदवारों को दस महीनों तक 5625 रुपए प्रतिमाह वेतन मिलेगा। 
  • उम्मीदवारों की नियुक्ति एचएमसी के माध्यम से की जाएंगी। 
  • इसके इलावा चयनित उम्मीदवारों को नियमित करने तथा नीति बनाने का दावा करने का अधिकार नहीं होगा। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में 60 वर्षे से अधिक उम्र वाले इन लोगों को नहीं मिलेगी पेंशन, इन्हें मिलेगी- जानें शर्तें और नियम

उधर, भर्ती संबंधित नियम सात के तहत स्कूलों में पार्ट टाइम वर्कर्स की भर्तियां उपमंडलाधिकारी की अध्यक्षता वाली कमेटी करेगी। इस कमेटी का सदस्य सचिव या तो खंड विकास अधिकारी या संबंधित स्कूल के प्रधानाचार्य़ को बनाया गया है।

ऐसे मिलेंगे अभ्यर्थियों को 38 अंकः 

  • जिस क्षेत्र में स्कूल है, वहां के स्थानीय निवासी को आठ अंक दिए जाएंगे। 
  • अन्य क्षेत्र के लोगों को दो से छह अंक मिलेंगे। 
  • आठवीं कक्षा पास आवेदक को आठ अंक और पांचवीं कक्षा पास को पांच अंक दिए जाएंगे। 
  • विधवा अनाथ और दिव्यांगों को आठ अंक मिलेंगे। 
  • विषम परिस्थितियों में रहने वाले आवेदकों को पांच अंक दिए जाएंगे। 
  • पति से अलग रहने वाली महिला को तीन अंक मिलेंगे। 
  • अगर किसी आवेदक के परिवार की ओर से सरकारी स्कूल को भूमि दान में दी गई है, उन्हें भी आठ अंक मिलेंगे। 
  • आरक्षित वर्ग के आवेदकों को तीन अंक दिए जाएंगे। 
  • बेरोजगार परिवार से संबंधित आवेदक को भी तीन अंक मिलेंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ