पहली बारिश में ही लैंडस्लाइड: ये जिले अलर्ट पर.. जानें कब तक खराब रहेगा मौसम

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

पहली बारिश में ही लैंडस्लाइड: ये जिले अलर्ट पर.. जानें कब तक खराब रहेगा मौसम


शिमला।
हिमाचल प्रदेश में प्री मानसून की झमाझम बारिश ने गर्मी से राहत दिलाई है। मंगलवार सुबह की शुरुआत तेज बारिश के साथ हुई। मंगलवार को लाहुल स्पीति को छोड़ बाकी सभी जिलों में आंधी चलने, ओलावृष्टि और बिजली गिरने का यलो अलर्ट जारी किया है।

27 तक मौसम खराब, यहां पसर गया मलबा

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने मंगलवार को भी कई जिलों में बारिश, ओलावृष्टि और अंधड़ की चेतावनी जारी की है। 27 मई तक पूरे प्रदेश में मौसम खराब रहने का पूर्वानुमान है। इस बीच खबर है कि मंडी जिले में चंडीगढ़-मनाली नेशनल हाई-वे बंद हो गया है। पहाड़ी से मलबा आने के चलते यह मार्ग बंद हुआ है। हालांकि मलबा साफ किया जा रहा है और सुबह दस बजे तक मार्ग बहाल कर दिया जाएगा।

इनके चेहरे खिले, इन्हें हुआ नुकसान

लाहौल घाटी में ताजा बर्फबारी और कुल्लू में झमाझम बारिश से जहां मौसम सुहाना हो गया है, वहीं किसान बागवानों के चेहरे भी खिल उठे हैं। कुल्लू में रात से लगातार बारिश हो रही है। पूरे राज्य में ऊंची चोटियों पर बर्फबारी जारी है तो बाकी राज्य में झमाझम बारिश हो रही है।

सोमवार सुबह आंधी चलने, ओलावृष्टि से भारी नुकसान हुआ है। ऊपरी शिमला में ओलावृष्टि से सेब पौधों से झड़ गए हैं। ओलावृष्टि से एंटी हेलनेट भी टूट गए। कई क्षेत्रों में 40 प्रतिशत तक सेब पौधों से झड़ गए हैं। सिरमौर जिले में प्लम व आड़ू की फसल को नुकसान पहुंचा। आंधी चलने से 11 मकान और पांच पशुशालाएं क्षतिग्रस्त हुई हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ