हिमाचल: मां-बेटों की कुल्हाड़ी का शिकार बना रिटायर्ड लाइनमैन, परलोक सिधारा

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: मां-बेटों की कुल्हाड़ी का शिकार बना रिटायर्ड लाइनमैन, परलोक सिधारा


बिलासपुर।
हिमाचल प्रदेश में एक शख्स की हत्या हो गई है। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को अरेस्ट किया है। गिरफ्तार हुए लोगों में मां और दो बेटे शामिल हैं। मामला बिलासपुर जिले के डोलांगांव से सामने आया है। बताया गया कि जमीनी विवाद के चलते एक ही परिवार के दो गुटों में झगड़ा हुआ था।

पीजीआई में इलाज के दौरान हुई मौत

इस मारपीट के दौरान एक 62 वर्षीय शख्स कुल्हाड़ी के वार से घायल हो गया था, जिसे इलाज के लिए पंजाब ले जाया गया था। इसके बाद आगामी इलाज के लिए उसे पीजीआई रेफर किया गया था। जहां इलाज के दौरान उक्त शख्स की मौत हो गई। बताया गया कि दोनों गुटों के बीच यह मारपीट शनिवार को ही हुई थी।

जान गंवाने वाले शख्स का नाम देशराज पुत्र भगवानू राम था। वहीं, घायल हुए शख्स की मौत होने की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने इस वारदात के सम्बन्ध में कुंती देवी धर्मपत्नी पहुराम और उसके दोनों बेटे पुनीत तथा कैलाश को धारा 302 के तहत आरेस्ट कर लिया है।

6 महीने से चल रहा था विवाद

सामने आ रही जानकारी के अनुसार परिवार के दोनों गुटों में बीते 6 महीने से जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। यह मामला पहले भी पुलिस के पास पहुंचा था। वहीं, स्थानीय पंचायत द्वारा भी दोनों गुटों के बीच समझौता कर दिया गया था। इसके बाद भी शनिवार को एक बार फिर दोनों गुटों के बीच विवाद शुरू हो गया।

बताया गया कि जुबानी बहस से शुरू हुआ झगड़ा कब खूनी संघर्ष में बदल गया किसी को इस बात का पता तक नहीं चल सका। इस बीच कुंती देवी धर्मपत्नी पहूराम और उसके दोनों बेटे पुनीत व कैलाश ने देशराज को कुल्हाड़ी मार दी। इसके बाद इलाज के दौरान देशराज का पीजीआई में निधन हो गया।

लाइनमैन के पद से रिटायर हुआ था मृतक शख्स

जान गंवाने वाला शख्स भाखड़ा ब्यास मैनेजमेंट बोर्ड गंगुवाल में लाइनमैन के पद से 2 साल पहले ही रिटायर हुआ था। उधर शख्स की मौत होने का पता चलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेने के बाद पोस्टमोर्टम करवाकर परिजनों के हवाले कर दिया है। वहीं, पुलिस द्वारा तीन लोगों की गिरफ्तारी कर मामले की तफ्तीश को आगे बढ़ाया जा रहा है। वारदात की पुष्टि नयना देवी के डीएसपी पूर्ण चंद द्वारा की गई है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ