हिमाचल का जवान जिंदगी की जंग हारा: 26 साल का था, 7 माह की बच्ची छोड़ गया

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल का जवान जिंदगी की जंग हारा: 26 साल का था, 7 माह की बच्ची छोड़ गया


सिरमौर।
हिमाचल प्रदेश के एक 26 वर्षीय जवान का दुखद निधन हो गया। सिरमौर जिले के अंतर्गत आते शिलाई उपमंडल की झकाण्डों पंचायत के रहने वाले इस जवान का नाम टीका राम था। जो कि सड़क हादसे में घायल हो गया था।

इसके बाद से ही उसका इलाज चल रहा था। जवान के साथ यह हादसा करीब 4 महीने पहले हुआ था, जब वो पठानकोट से छुट्टी लेकर वापस अपने घर को आ रहा था। वहीं, अब खबर आ रही है कि जवान जिन्गदी और मौत की इस जंग में परस्त हो गया है।

चार माह तक कोमा में रहा फिर मौत

बतौर रिपोर्ट्स, 26 वर्षीय जवान के साथ यह हादसा फरवरी माह में पांवटा साहिब में हुआ था, जिसके बाद उसे इलाज के लिए दिल्ली स्थित सेना अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां बीते चार माह कोमा में रहने के बाद अब जाकर जवान ने अपने प्राण त्याग दिए।

24 साल की पत्नी का उजड़ा सुहाग

जान गंवाने वाले टीका राम के परिवार के अधिकतर लोग सेना और पुलिस में अपनी सेवाएं दे चुके या दे रहे हैं। टीका राम के निधन की खबर मिलने के बाद उनके परिवार में मातम पसर गया है। जवान अपने पीछे 24 वर्षीय पत्नी रुबीना और 7 माह की बिटिया को छोड़ गया है।

पुलिस में तैनात टीका राम के बड़े भाई दिनेश ने बताया कि सड़क हादसे में उसे स्पाइनल इंजरी हुई थी। चार भाई-बहनों का टीका राम सबका लाडला इसलिए भी था, क्योंकि वो सबसे छोटा था। भारतीय सेना के जवान की पार्थिव देह को दिल्ली से वापस पैतृक गांव लाया जा रहा है। चार महीने तक जिंदगी व मौत के बीच जंग लड़ने वाले फौजी के निधन पर समूचे शिलाई क्षेत्र में शोक की लहर है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ