हिमाचलः शरारती तत्वों ने तोड़ी 35 साल पुरानी हनुमान की मूर्ति व शिवलिंग- जांच में जुटी पुलिस

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचलः शरारती तत्वों ने तोड़ी 35 साल पुरानी हनुमान की मूर्ति व शिवलिंग- जांच में जुटी पुलिस


बिलासपुरः
स्नातन धर्मियों के लिए भगवान शिव का प्रतीक शिवलिंग तथा हनुमान जी की मूर्ति कितना महत्त्व रखती है, इस बात को शब्दों में व्यक्त करना मुमकिन नहीं है। परंतु कुछ शरारती तत्वों ने हिंदूओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाते हुए अपने मजे के लिए शिवलिंग तथा हनुमान जी की मूर्ति को खंडित कर दिया। मामला प्रदेश के बिलासपुर जिले के तहत आते घुमारवीं-सरकाघाट हाईवे किनारे स्थित मंदिर का है। 

मुर्तियों के खंड़ित होने के चलते हिन्दू संगठनो ने भारी रोष व्यक्ति कया है। साथ ही साथ शासन व प्रशासन से मामले के संबंध में कार्रवाई करने तथा आरोपितों को पकड़ने की मांग की है। 

पूजा करने गया युवक तो पाया मूर्तियों को खंडित

स्थानीय व्यक्ति के मुताबिक जब उनका बेटा मंदिर परिसर में 9:30 बजे भगवान की पूजा-अर्चना करने गया तो उसने पाया की मंदिर के बाहर भगवान हनुमान की 35  साल पुरानी मूर्ती तथा मंदिर के भीतर स्थित शिवलिंग टूटी पड़ी है। देखने में ऐसा लग रहा है कि किसी ने इन पर किसी तेजधार हथियार से प्रहार किया है, जिस वजह से वे खंडित हो गई हैं। इस संबंध में मंदिर के पुजारी ने आरोपितों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है। 

पुलिस कर रही जांच

उधर, मामले की सूचना मिलने के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंची। जहां उन्होंने घटना स्थल का जायजा लिया। इसके साथ ही आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई अमल मेंलाई जा रही है। फिलहाल पुलिस मंदिर परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को खंगालने में जुटी हुई है। 

लोगों ने खंडित मूर्तियां कि प्रवाहित

ताकि आरोपितों के बारे में कुछ जानकारी प्राप्त की जा सके। उधर, स्थानीय लोगों ने खंडित मूर्तियों को पानी में प्रवाह कर दिया है। जहां जल्द ही नई मूर्तियां स्थापित की जाएंगी। मामले की पुष्टि करते हुए डीएसपी घुमारवीं अनिल ठाकुर ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ