हिमाचल: मलबे के ढेर में दबे सो सगे भाई, समाप्त हुई जीवनलीला

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

हिमाचल: मलबे के ढेर में दबे सो सगे भाई, समाप्त हुई जीवनलीला


ऊना।
हिमाचल प्रदेश स्थित ऊना जिले के उपमंडल बाथू में आज सुबह-सवेरे डंपिंग साईट की निर्माणाधीन दीवार अचानक से भरभराकर ढह गई। वहीं, इस हादसे के दौरान मौके पर काम कर रहे तीन मजदूर गिरी दिवारी के मलबे की चपेट में आ गए। अब खबर आ रही है कि इस हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए दो सगे भाइयों की मौत हो गई है। वहीं, एक शख्स अब भी घायल बताया जा रहा है।

बतौर रिपोर्ट्स, हादसे के बाद घटनास्थल के आसपास मौजूद लोगों ने कड़ी मशक्कत कर तीनों मजदूरों को मलबे से बाहर निकाला। इसके बाद वे उन्हें इलाज के लिए क्षेत्रीय अस्पताल ऊना ले गए। जहां से तीनों घायल मजदूरों की गंभीर हालत देखते हुए उन्हें आगामी इलाज के लिए पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया है।

पीजीआई पहुंचने पर दो घायल मजदूरों को डॉक्टरों द्वारा ब्रॉड डेड घोषित कर दिया गया। जबकि एक का इलाज अब भी जारी है। मृतकों की पहचान मुवारिक (25) पुत्र इरफान उम्र , मुजम्मिल पुत्र इरफान निवासी गांव रोगला तहसील वेहट जिला सहारनपुर, उत्तर प्रदेश के तौर पर की गई है। मृतक रिश्ते में सगे भाई थे।

वहीं, घायल मजदूर का नाम इरशाद (32) पुत्र इस्लाम है, जो कि गांव फैजपुर तहसील इजरावाद जिला यमुनानगर हरियाणा का रहने वाला बताया जा रहा है। उधर, हादसे की खबर मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का मुआयना किया और चश्मदीदों के बयान कलमबद्ध कर जांच को आगे बढ़ा रही है।

एएसपी ऊना प्रवीण धीमान द्वारा इस हादसे की पुष्टि करते हुए बताया गया कि यह हादसा औद्योगिक क्षेत्र के बाथू स्थित एक क्रशर परिसर में हुआ। जहां डपिंग साइट के निर्माण कार्य की अचानक दीवार गिर गई। बतौर रिपोर्र्स, मृतकों के परिजनों के इस हादसे के बारे में जानकारी दे दी गई है। उनके शव चंडीगढ़ से ऊना लाए जा रहे हैं। जहां उनका पोस्टमोर्टम किया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ